Zara Haule Haule Chalo More Saajna – Asha Bhosle, Sawan Ki Ghata – (ज़रा हौले-हौले चलो मोरे साजना)

हौले-हौले साजना, धीरे-धीरे बालमा
ओ हो हो…
ज़रा हौले-हौले चलो मोरे साजना
हम भी पीछे हैं तुम्हारे
कैसी भीगी-भीगी रुत है सुहानी
कैसे प्यारे नज़ारे
ज़रा हौले-हौले चलो…

पड़ गई जनाब मैं तो आपके गले
अब तो निभाए बगैर ना चले
प्यार के सफ़र में होते ही रहेंगे
झगड़े हज़ार सनम
प्यार के दीवाने, चलते ही रहेंगे
फिर भी मिला के कदम सजना
होते ही रहेंगे नीची नज़र के
मीठे-मीठे इशारे
ज़रा हौले-हौले चलो…

देख ली हुज़ूर मैंने आपकी वफ़ा
बातों ही बातों में हो गये खफ़ा
दिल को तो दिलबर ले ही चुके हो
दिल का करार न लो
मुझे मेरा प्यार दो, दुनिया संवार दो
जीने की बात करो सजना
तुम जो नहीं तो कैसे लगेगी
जीवन नैय्या किनारे
ज़रा हौले-हौले चलो…


Movie/Album: सावन की घटा (1966)
Music By: ओ.पी.नय्यर
Lyrics By: एस.एच.बिहारी
Performed By: आशा भोंसले