Wo Ek Haseen Ladki – Kishore Kumar, Aakraman – (वो एक हसीन लड़की)

अरे हमनशीं इक नाज़नीं आती है याद भूली नहीं
वो एक हसीन लड़की जो बस लाजवाब थी
अच्छी थी वो बड़ी अच्छी थी
वो मगर मेरी किस्मत खराब थी
वो एक हसीन लड़की…

जिस वक़्त वो गयी जी हुआ रंग से बोझल
उस वक़्त सामने पड़ी थी मेज़ पे बोतल
बोतल लगाई मुँह से, उसमें शराब थी हाय
अच्छी थी वो…

दो चार मुलाकातों से मैं आगे न बढ़ सका
ऐसी थी कोई बात जिसे मैं न पढ़ सका
चेहरे पे उसके लिखी हुई एक किताब थी
अच्छी थी वो…


Movie/Album: आक्रमण (1975)
Music By: लक्ष्मीकांत प्यारेलाल
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: किशोर कुमार