Saudagar Sauda Kar – Manhar, Kavita, Sukhwinder, Saudagar – (सौदागर सौदा कर)

तू पंछी परदेसी, तू जोगी है कि जादूगर
इनमें से कोई भी नहीं, मैं सपनों का सौदागर
सौदागर, सौदा कर
दिल ले ले, दिल दे कर

हाथ किसी का वो पकड़े
जो छोड़े जग सारा
तू ऊंचे महलों वाली
मैं बेघर बंजारा
इक दूजे के दिल में रहेंगे
क्या करना है घर
सौदागर सौदा कर…

तेरे साथ मैं कैसे
प्यार का सौदा कर लूँ
ऐसा कोई वादा कर
मैं जिसपे भरोसा कर लूँ
जो चाहे लिखवा ले मुझसे
कोरे कागज़ पर
सौदागर सौदा कर…

दिल तो है पर दिल के
परवान कहाँ से लाऊँ
डोली सहरा कंगन
सब सामान कहाँ से लाऊँ
थोड़ा सा सिंदूर कहीं से
ले आ बस जा कर
सौदागर, सौदा कर
दिल ले ले, दिल दे कर
सोचा समझ ले
बाद में न पछताना
ये कहकर
सौदागर सौदागर…

Movie/Album: सौदागर (1991)
Music By: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: मनहर उदास, कविता कृष्णमूर्ति