Salamat – Arijit Singh, Tulsi Kumar, Sarabjit – (सलामत)

चाहे मैं रहूँ जहां में, चाहे तू ना रहे
तेरे-मेरे प्यार की उमर सलामत रहे
चाहे ये ज़मीं, ये आसमां रहे ना रहे
तेरे-मेरे प्यार की उमर सलामत रहे

डर है तुझे मैं खो ना दूं
मिले जो ख़ुदा तो बोल दूं
मैं दो जहां का क्या करूं, तू बता
तू जो मेरे पास है
मुझको न कोई प्यास है
मेरी मुक़म्मल हो गयी हर दुआ
चाहे मेरे जिस्म में, ये जाँ रहे ना रहे
तेरे-मेरे प्यार की…

तेरे टुकड़ों में जी रहे
तुम जो मिले तो जुड़ गए
पंख लगा के उड़ चला, मन मेरा
तुझमें मैं हूँ, मुझमें तू
और है सांसें रूबरू
कुछ भी नहीं अब दोनों के दरमियाँ
चाहे उस चाँद में, चमक रहे ना रहे
तेरे-मेरे प्यार की…


Movie/Album: सरबजीत (2016)
Music By: अमाल मलिक 
Lyrics By: रश्मि विराग
Performed By: अरिजीत सिंह, तुलसी कुमार