Rashid Ali, Jaane Tu Ya Jaane Na – Kabhi Kabhi Aditi – (कभी कभी अदिति)

कभी कभी अदिति जिंदगी में यूँ ही कोई अपना लगता है
कभी कभी अदिति वो बिछड़ जाए तो एक सपना लगता है
ऐसे में कोई कैसे अपने आंसुओं को बहने से रोके
और कैसे कोई सोचले Everything’s Gonna Be Okay

कभी कभी तो लगे जिंदगी में रही ना खुशी और ना मज़ा
कभी कभी तो लगे हर दिन मुश्किल और हर पल एक सज़ा
ऐसे में कोई कैसे मुस्कुराए, कैसे हंस दे खुश होके
और कैसे कोई सोचले Everything’s Gonna Be Okay

सोच ज़रा जानेजां तुझको हम कितना चाहते हैं
रोते हैं हम भी अगर तेरी आंखों में आंसूं आते हैं
गाना तो आता नहीं है मगर फ़िर भी हम गाते हैं
हे अदिति माना कभी कभी सारे जहाँ में अँधेरा होता है
लेकिन रात के बाद ही तो सवेरा होता है

कभी कभी अदिति जिंदगी में यूँ ही कोई अपना लगता है
कभी कभी अदिति वो बिछड़ जाए तो एक सपना लगता है
हे अदिति हंस दे हंस दे हंस दे हंस दे हंस दे तू ज़रा
नहीं तो बस थोड़ा थोड़ा थोड़ा थोड़ा थोड़ा थोड़ा मुस्कुरा

तू खुश है तो लगे की जहाँ में छाई है खुशी
सूरज निकले बादलों से और बाँटें जिंदगी
सुन तो ज़रा मदहोश हवा तुझसे कहने लगी
की अदिति वो जो बिछड़ते हैं एक ना एक दिन फ़िर मिल जाते
ये अदिति जाने तू या जाने न फूल फ़िर खिल जाते हैं


Movie/Album: जाने तू या जाने ना (2008)
Music By: ए.आर.रहमान
Lyrics By: अब्बास टायरवाला
Performed By: राशीद अली