रफ्ता रफ्ता वो मेरे हस्ती का सामां हो गयेपहले जां, फिर जानेजां, फिर जानेजाना हो गयेदिन-ब-दिन बढती गईं इस हुस्न की रानाइयां,पहले गुल, फिर गुल-बदन, फिर गुल-बदामां हो गएआप तो नज़दीक से नज़दीक-तर आते गए,पहले दिल, फिर दिलरुबा, फिर दिल के मेहमां हो गएप्यार जब हद से बढ़ा सारे तकल्लुफ …

कल चौदहवीं की रात थीशब भर रहा चर्चा तेराकल चौदहवीं की रात थीकुछ ने कहा ये चाँद हैकुछ ने कहा, चेहरा तेराकल चौदहवीं की रात थीहम भी वहीँ, मौजूद थेहम से भी सब पुछा किएहम हँस दिए, हम चुप रहेमंज़ूर था परदा तेराकल चौदहवीं की रात थी…इस शहर में किस्से …

कभी कभी अदिति जिंदगी में यूँ ही कोई अपना लगता हैकभी कभी अदिति वो बिछड़ जाए तो एक सपना लगता हैऐसे में कोई कैसे अपने आंसुओं को बहने से रोकेऔर कैसे कोई सोचले Everything’s Gonna Be Okayकभी कभी तो लगे जिंदगी में रही ना खुशी और ना मज़ाकभी कभी तो …

हीरे मोती मैं ना चाहूँमैं तो चाहूँ संगम तेरामैं तो तेरी, सैयांतू है मेरा, सैयांतू जो, छू ले, प्यार सेआराम से मर जाऊंआजा, चंदा, बाहों मेंतुमें ही गुम हो जाऊंमैं, तेरे नाम में खो जाऊंसैयां…मेरे दिन खुशी से झूमें, गायें रातेंपल-पल मुझे डुबाए जाते-जातेतुझे जीत-जीत हारूंये प्राण-प्राण वारूँहाय ऐसे मैं …

चुपके चुपके रात दिन आँसू बहाना याद हैहम को अब तक आशिकी का वो ज़माना याद हैतुझ से मिलते ही वो कुछ बेबाक हो जाना मेराऔर तेरा दांतों में वो उंगली दबाना याद हैचुपके चुपके रात दिन…चोरी-चोरी हम से तुम आ कर मिले थे जिस जगहमुद्दतें गुजरीं पर अब तक …