Jaane Kaise Kab Kahan – Kishore, Lata, Shakti – (जाने कैसे कब कहाँ)

जाने कैसे, कब कहाँ, इकरार हो गया
हम सोचते ही रह गये, और प्यार हो गया

गुलशन बनी, गलियाँ सभी
फूल बन गई, कलियाँ सभी
लगता है मेरा सेहरा तैयार हो गया
हम सोचते ही…

तुमने हमे बेबस किया
दिल ने हमे धोखा दिया
उफ़ तौबा जीना कितना दुश्वार हो गया
हम सोचते ही…

हम चुप रहे, कुछ ना कहा
कहने को क्या, बाकी रहा
बस आँखों ही आँखों में इज़हार हो गया
हम सोचते ही…


Movie/Album: शक्ति (1982)
Music By: आर.डी.बर्मन
Lyrics By: आनंद बक्षी
Performed By: लता मंगेशकर, किशोर कुमार