Dikhayee Diye Yun – Lata Mangeshkar, Bazaar – (दिखाई दिए यूँ)

दिखाई दिए यूँ कि बेखुद किया
हमें आप से भी जुदा कर चले
दिखाई दिए यूँ…

जबीं सजदा करते ही करते गई
हक़-ए-बंदगी हम अदा कर चले
दिखाई दिए यूँ…

परस्तिश किया तक कि ऐ बुत तुझे
नज़र में सभों की ख़ुदा कर चले
दिखाई दिए यूँ…

बहुत आरज़ू थी गली की तेरी
सो यास-ए-लहू में नहा कर चले
दिखाई दिए यूँ…


Movie/Album: बाज़ार (1982)
Music By: खैय्याम 
Lyrics By: मिर तकी मिर
Performed By: लता मंगेशकर