Chori Ho Gayi Raat Nayan – Lata Mangeshkar, Mahendra Kapoor, Ishara – (चोरी हो गई रात नैन)

चोरी हो गई रात नैन की निंदिया
सपनों में कोई आया, जाग उठी बिंदिया
चोरी हो गई रात नैन की निंदिया
चुभ चुभ गई अँखियों में रंग भरी बिंदिया
चोरी हो गई रात नैन…

दिल ने किसी की जो आहट पाई
रह गई मैं लेके एक अंगड़ाई
जिया जब धड़का तो खुल गई अँखियाँ
चोरी हो गई रात नयन…

दिन भी गई लेके, रैन भी लेके
वो जो गई मेरा चैन भी ले के
तुम जैसे नैना थे, तुम्हरी सुरतिया
चोरी हो गई रात नयन…

जागी हुई अँखियों में देखके लाली
लावे सब डारन को कजरा की प्याली
समझे नहीं कोई जियरा की बतियाँ
चोरी हो गई रात नैन…


Movie/Album: इशारा (1964)
Music By: कल्याणजी-आनंदजी
Lyrics By: मजरूह सुल्तानपुरी
Performed By: लता मंगेशकर, महेंद्र कपूर