Balma Khuli Hawa Mein – Asha Bhosle, Kashmir Ki Kali – (बलमा खुली हवा में)

बलमा खुली हवा में महकी हुई फ़िज़ा में
दिल चाहता है मेरा बहकना इधर उधर

पग पग चलूँ बलखाती 
खुद भी न जानूँ कहाँ
कहता है ये दिल मतवाला 
आज अपना है सारा जहां
बलमा खुली हवा में…

छुन छुन बोले मोरी पायल 
आजा कहे साजना 
आजा के ये सारे नज़ारे 
सैंया फीके हैं तेरे बिना
बलमा खुली हवा में…


Movie/Album: कश्मीर की कली (1964)
Music By: ओ.पी.नैय्यर
Lyrics By: एस.एच.बिहारी
Performed By: आशा भोंसले