Aitbaar Nahin Karna – Abhijeet, Qayamat – (ऐतबार नहीं करना)

ऐतबार नहीं करना, इन्तज़ार नहीं करना
हद से भी ज़्यादा तुम किसी से प्यार नहीं करना
इकरार नहीं करना, जाँ निसार नहीं करना
हद से भी ज़्यादा तुम किसी से प्यार नहीं करना

मंज़िलें बिछड़ गयीं, रास्ते भी खो गये
आये फिर ना लौट के, जो दीवाने हो गये
चाहतों की बेबसी, दूरियों के ग़म मिले
बेक़रारियाँ मिलीं, चैन यार कम मिले
बेक़रार नहीं करना, इन्तज़ार नहीं करना
हद से भी ज़्यादा तुम…

कोई तो वफ़ा करे, कोई तो जफ़ा करे
किसको है पता यहाँ, कौन क्या ख़ता करे
ऐसा ना हो इश्क़ में, कोई दिल को तोड़ दे
बीच राह में सनम, तेरा साथ छोड़ दे
इज़हार नहीं करना, इन्तज़ार नहीं करना
हद से भी ज़्यादा तुम…


Movie/Album: क़यामत (2003)
Music By: नदीम-श्रवण
Lyrics By: समीर
Performed By: अभिजीत