Aa Jaan-e-Wafa – Anarkali, Geeta Dutt – (आ जान-ए-वफ़ा)

वफ़ा की लाज रह जाएगी आजा तेरे आने से
मोहब्बत की नज़र नीची ना हो जाए ज़माने से

आ जान-ए-वफ़ा
कहते हैं किसे प्यार ज़माने को दिखा दे
दुनिया की नज़र इश्क के क़दमो पे झुका दे
आ जान-ए-वफ़ा…

आजा ये मेरा नाज़ उठाना ही पड़ेगा
जब प्यार किया है तो निभाना ही पड़ेगा
आ दिल के लिए जान की बाज़ी भी लगा दे
दुनिया की नज़र…

आ प्यार के तूफ़ान मे लहरा के चला आ
हर क़ैद को हर रस्म को ठुकरा के चला आ
आशिक है तो हर चीज़ मुहब्बत पे लुटा दे
दुनिया की नज़र…

दीवाना मोहब्बत का कही डर के रुका है
दरबार मे शाहों के कहीं इश्क झुका है
खुद इश्क के दरबार में शाहों को झुका दे
आ जान-ए-वफ़ा…


Movie/Album: अनारकली (1953)
Music By: वसंत प्रकाश
Lyrics By: जां निसार अख़्तर
Performed By: गीता दत्त