पल पल दिल के पास तुम रहती होजीवन मीठी प्यास ये कहती होहर शाम आंखों पर तेरा आंचल लहराएहर रात यादों की बारात ले आएमैं साँस लेता हूँ तेरी खुशबू आती हैइक महका महका सा पैगाम लाती हैमेरे दिल की धड़कन भी तेरे गीत गाती हैपल पल दिल के…कल तुझको …

छू कर मेरे मन कोकिया तुने क्या इशाराबदला ये मौसमलगे प्यारा जग सारातू जो कहे जीवन भरतेरे लिए मैं गाऊँ गीत तेरे बोलों पे लिखता चला जाऊं मेरे गीतों मेंतुझे ढूंढे जग साराछू कर…आजा तेरा आंचल येप्यार से मैं भर दूँ खुशियाँ जहाँ भर कीतुझको नज़र कर दूँ तू ही मेरा जीवनतू ही …

सजदे में यूँ ही झुकता हूँतुमपे ही आ के रुकता हूँक्या ये सबको होता है हमको क्या लेना है सबसेतुमसे ही सब बातें अब सेबन गए हो तुम मेरी दुआ खुदा जाने के मैं फ़िदा हूँखुदा जाने मैं मिट गयाखुदा जाने ये क्यूँ हुआ हैके बन गए हो तुम मेरे …

वो जब याद आए बहुत याद आएगम-ए-जिंदगी के अंधेरे में हमनेचिराग-ए-मुहब्बत जलाए बुझाएआहटें जाग उठीं रास्ते हंस दिएथामकर दिल उठे हम किसी के लिएकई बार ऐसा भी धोखा हुआ हैचले आ रहे हैं वो नज़रें झुकाएवो जब याद आए…दिल सुलगने लगा अश्क बहने लगेजाने क्या-क्या हमें लोग कहने लगेमगर रोते-रोते …

वो हैं ज़रा खफा ख़फातो नैन यूँ चुराए हैंके होना बोल दूँ तो क्या करूँवो हंस के यूँ बुलाए हैंके होहंस रही है चांदनीमचल के रो ना दूँ कहींऐसे कोई रूठता नहींये तेरा ख़याल हैकरीब आ मेरे हसींमुझको तुझसे कुछ गिला नहींबात यूँ बनाए हैंके हो..फूल को महक मिलेये रात …

चुपके चुपके रात दिन आँसू बहाना याद हैहम को अब तक आशिकी का वो ज़माना याद हैतुझ से मिलते ही वो कुछ बेबाक हो जाना मेराऔर तेरा दांतों में वो उंगली दबाना याद हैचुपके चुपके रात दिन…चोरी-चोरी हम से तुम आ कर मिले थे जिस जगहमुद्दतें गुजरीं पर अब तक …

तुने ओ रंगीले कैसा जादू कियापिया पिया बोले मतवाला जियाबाहों में छुपाके ये क्या किया, ओ रे पियापास बुलाके गले से लगाकेतुने तो बदल डाली दुनियानए हैं नजारे, नए हैं इशारेरही ना वो कल वाली दुनियासपने दिखाके ये क्या किया, ओ रे पियाओ मेरे साजन, कैसी ये धड़कनशोर मचाने लगी …

नैनों में बदरा छाये, बिजली सी चमके हायऐसे में बालम मोहे, गरवा लगा लेमदिरा में डूबी अखियाँ, चंचल है दोनों सखियाँछलती रहेगी तोहे, पलकों की प्यारी पखियाँशरमाके देंगी तोहे, मदिरा के प्यालेनैनों में बदरा छाये…प्रेम दीवानी हूँ मैं, सपनों की रानी हूँ मैंपिछले जनम से तेरी, प्रेम कहानी हूँ मैंआ …

नैना बरसे, रिम झिम रिम झिमपिया तोरे आवन की आसवो दिन मेरी निगाहों मेंवो यादें मेरी आहों मेंये दिल अब तक भटकता हैतेरी उल्फत की राहों मेंसूनी सूनी राहें, सहमी सहमी बाहेंआंखों में है बरसों की प्यासनज़र तुझ बिन मचलती हैमोहब्बत हाथ मलती हैचला आ मेरे परवानेवफ़ा की शम्मा जलती …

रुक जा रात ठहर जा रे चन्दा, बीते ना मिलन की बेलाआज चांदनी की नगरी में, अरमानों का मेलापहले मिलन की यादें लेकर आयी है ये रात सुहानीदोहराते हैं फ़िर ये सितारे, मेरी तुम्हारी प्रेम कहानीकल का डरना, काल की चिंता, दो तन है, मन एक हमारेजीवन सीमा के आगे …