सामान्य घरेलू उपचार #3 – स्वाभाविक रूप से दमकती त्वचा पाने के कुछ तरीके

दही में काली मिर्च पाउडर का मिश्रण करे ब्‍लैक हैड्स का इलाज।

बालों के लिए दही बहुत अच्‍छा कंडीशनर साबित होता है।

टमाटर और दूध मिलाकर लगाने से क्‍लींजर का काम करता है।

कुदरती उपायों के साइड इफेक्‍ट न के बराबर होते हैं।

खूबसूरत दिखना सबकी चाहत होती है। और बाजार हमारी इस चाहत को पूरा करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहता। ऐसे कई उत्‍पाद हैं जो आपको कम समय में अधिक खूबसूरती देने का दावा करते हैं। स्‍पा ट्रीटमेंट से लेकर कास्‍मेटिक तक कई विकल्‍प मौजूद हैं, जो आपका रूप निखाने का दावा करते हैं।
लेकिन, अकसर महंगे सौंदर्य उत्‍पादों में छुपे नुकसानों के बारे में हम विचार नहीं करते। त्‍वचा विशेषज्ञ भी मानते हैं कि बाजार में मिलने वाले अधिकतर कॉस्‍मेटिक्‍स में खतरनाक उत्‍पाद होते हैं। इनके नियमित इस्‍तेमाल से आपको त्‍वचा संबंधी कई परेशानियां हो सकती हैं।
पुराने जमाने की महिलायें अपना रूप निखारने के लिए कुदरती तरीकों पर अधिक निर्भर रहा करती थीं। वे सिन्थेटिकयुक्‍त आई-लाइनर ,नेल पॉलिश ,लिपस्टिक, मस्कारे का प्रयोग नहीं किया करती थीं, लेकिन फिर भी उनका रूप निखरा-निखरा नजर आता था। वे प्राकृतिक उत्‍पादों का प्रयोग किया करतीं थीं। आज के दौर में हम उन सब चीजों को भूल गये लगते हैं। हमें ये सब चीजें पिछड़े जमाने की लगती हैं। हमें लगता है कि इन चीजों का इस्‍तेमाल करना झंझट भरा है। लेकिन, वास्‍तव में इन चीजों का नुकसान नहीं होता और ये हमारा रूप निखारने में मदद करती हैं।

अण्डे से निखारें चेहरा

तैलीय त्वचा वालों के लिए अण्डे का सफेद भाग चेहरे पर लगाना अच्छा होता है। और जिन लोगों की त्‍वचा शुष्क है उन्‍हें अपने चेहरे पर अंडे की जर्दी लगानी चाहिये। अण्डे के सफेद और पीले भाग हमारी त्वचा के रोमछिद्र को सीमित करते हैं और झुर्रियों से बचाव करते हैं। इससे आपकी त्‍वचा निखरी रहती है और साथ ही एजिंग की समस्‍या भी हमसे दूर रहती है।

क्रीमी मसाज

चेहरे पर निखार लाने के लिए 2 से 3 छोटे चम्मच से चेहरे पर क्रीम लगायें। अपने चेहरे पर अपवर्ड सर्कुलर मूवमेंट में मसाज करें। इससे ना केवल आपकी त्वचा में निखार आयेगा बल्कि आपकी त्वचा की मृत कोशिकायें भी समाप्‍त हो जाएंगी।

जूस से निखरे रूप

झुर्रियां आपके चेहरे की रंगत चुरा सकती हैं। ओर इनका असर आपको समय से पहले ही बूढ़ा दिखा सकता है। इससे बचने के लिए सेब का रस ,नीबू का रस और अनानास का रस कारगर घरेलू उपाय माने जाते हैं। त्‍वचा को झुर्रियों रहित और बेदाग बनाने के लिए इन सब रसों को समान मात्रा में मिलाकर चेहरे पर लगायें। 10-15 मिनट बाद ताजा पानी से चेहरा धो लें। फलों मे मौजूद एस्ट्रिन्जेंट और ब्‍लीचिंग के गुण आपका चेहरा निखार देंगे।

ब्लैक हैड्स निकालना

ब्लैकहैड्स सभी को होता है। यह हर उम्र में हो सकता है। महिलाओं के साथ-साथ पुरुष भी इससे अछूते नहीं हैं। लेकिन, ऐसा नहीं है कि इस समस्‍या को दूर नहीं किया जा सकता। ब्‍लैकहेड्स निकालने के लिए एक बड़े चम्‍मच दही में एक चम्‍मच काली मिर्च पाउडर मिलाकर चेहरे पर लगायें। इसे सर्कुलर मोशन में चेहरे पर मसाज करें। 10-15 तक चेहरे पर लगा रहने देने के बाद चेहरा धो लें। ब्‍लैक हैड्स निकल जाएंगे और आपको मिलेगा निखरा-निखरा चेहरा।

गुलाबी चमक

यह एक जादुई तकनीक है जिसे आपको कोई भी त्वचा विशेषज्ञ नहीं बताएगा ा एक ऊंचे टेबल को अपने बेड के किनारे लगाएं और अपने पैरों को टेबल के ऊपर रखें ा यह सुनने मंे थोड़ा बकवास लग रहा है लेकिन ऐसा करने से शरीर मंे मौजूद टाक्सिन शरीर से निकल जाते हैं और चेहरे में चमक आ जाती है ा

आप जैसा खाते हैं वैसे दिखते है

हमारे आहार का हमारे रूप पर गहरा असर पड़ता है। एक स्‍वस्‍थ डायट न केवल हमारी सेहत का खयाल रखती है, बल्कि साथ ही साथ रूप सौंदर्य निखारने में भी आहार की अहम भूमिका होती है। फाइबर युक्त फल, हरी सब्ज़ियां और एण्टीआक्सिडेंट्स हमारी त्‍वचा के लिए बहुत जरूरी होते हैं। याद रखिये यदि हमारा आहार सही न हो तो किसी भी प्रकार का कॉस्‍मेटिक रूप को निखरा नहीं रख सकता।

बालों में कन्डीशनर

ककड़ी, केले ,टमाटर और दही का पेस्ट बनाएं और बालों को धोने के बाद इस मिश्रण को बालों में लगायें। यह प्राकृतिक रूप से कन्डीशनर का काम करेगा और आपके बाल रेशमी और स्वस्थ दिखेंगे।

प्राकृतिक त्वचा क्लीनजर

एक टमाटर का रस दो बड़े चम्मच दूध में मिला लें। इस मिश्रण को चेहरे पर लगाने के बाद 10 से 15 मिनट तक छोड़ दें और फिर पानी से धो लें। यह क्लीनज़र ना सिर्फ त्वचा से तेल निकालेगा बल्कि इससे मृत त्‍वचा कोशिकायें भी हट जाती हैं। इससे चेहरे के निशान भी दूर होते हैं, और साथ ही रूप भी निखरता है।

व्यायाम

व्यायाम से मिलने वाले फायदों की तुलना आप किसी क्रीम या जैल से नहीं की जा सकती है। इसका एक बड़ा कारण यह है कि व्‍यायाम के दौरान शरीर से निकलने वाले पसीने से त्‍वचा के रोमछिद्र खुल जाते हैं।
और हां, इन सब उपायों के बीच नींद को नहीं भूलना चाहिये। अच्‍छी नींद असल में सेहत का आधार होती है। रोजाना आठ घंटे की नींद आपके स्‍वास्‍थ्‍य के साथ-साथ आपकी त्‍वचा के लिए भी जरूरी होती है। इससे मांसपेशियों को आराम मिलता है। और आपको मिलता है निखरा-निखरा रूप।